Categories
News

New Corona vakseen: भारत में लॉन्च हुई कोरोना की एक और दवा, देश के इन 42 शहरों में होगी फ्री होम डिलीवरी…

कोरोना की दवाई

दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। भारत में बीते 24 घंटों में कोरोना के 69 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं जबकि 977 मरीजों की मौत भी हो गई है। यहां संक्रमण का मामला 28 लाख के पार पहुंच गया है जबकि कुल मरने वालों की संख्या 53 हजार के पार है। इस बीमारी को खत्म करने के लिए वैक्सीन बनाने का काम जारी है, लेकिन जब तक यह नहीं आ जाती है, तब तक दवाओं को ही कारगर बनाया जा रहा है। देश में कोरोना के इलाज के लिए कई तरह की दवाइयों के इस्तेमाल को मंजूरी मिली हुई है। अब देश की जानी-मानी फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी लेबोरेट्रीज ने भी कोरोना की एक दवाई लॉन्च की है। उसने इस दवाई को 200 एमजी टैबलेट के रूप में लॉन्च किया है।

आइए जानते हैं इसके बारे में…

दरअसल, कोरोना के इलाज में कारगर मानी जा रही दवाई फेविपिराविर (Favipiravir) को अलग-अलग कंपनियां अलग-अलग नामों से लॉन्च कर रही हैं। डॉ. रेड्डी लेबोरेट्रीज ने इसके जेनेरिक वर्जन को पेश किया है, जिसका नाम ‘एविगन’ (Avigan) रखा है। ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया से इस दवाई के इस्तेमाल की मंजूरी मिल चुकी है।

डॉ. रेड्डी लेबोरेट्रीज के मुताबिक, ‘एविगन’ दवा का इस्तेमाल हल्के और मध्यम कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों पर किया जा सकेगा। कंपनी ने ‘फ्यूजीफिल्म टोयामा केमिकल कंपनी लिमिटेड’ के साथ इस दवाई के निर्माण और उसके वितरण के लिए अनुबंध किया है।

डॉ. रेड्डी लेबोरेट्रीज के मुताबिक, कंपनी ने इस दवा को 122 टैबलेट के पैक में बाजार में उतारा है। इसकी एक्सपायरी दो साल की रहेगी। सबसे खुशी की बात ये है कि कंपनी ने देश के 42 शहरों में इस दवा की फ्री होम डिलीवरी सेवा उपलब्ध कराने का दावा किया है।

‘एविगन’ दवा की होम डिलीवरी के लिए डॉ. रेड्डी लेबोरेट्रीज ने टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर भी अपनी वेबसाइट पर दिया है, जिसपर कॉल कर दवाई मंगाई जा सकती है या फिर www.readytofightcovid.in पर सुबह 9 से रात 9 बजे तक दवाई का ऑर्डर दिया जा सकता है। हालांकि कंपनी ने दवाई की कीमत का खुलासा नहीं किया है।

हाल ही में जेनरिक फार्मा कंपनी एमएसएन ग्रुप ने कोरोना की सबसे सस्ती दवा ‘फेविलो’ लॉन्च की है। 200 एमजी फेविपिराविर की एक टैबलेट की कीमत 33 रुपये है। कंपनी का कहना है कि जल्द ही फेविपिराविर की 400 एमजी टैबलेट भी लॉन्च की जाएगी।

हैदराबाद की ली-फार्मा कंपनी भी कोरोना के मरीजों के लिए फेविपिराविर दवा को ‘फाराविर’ नाम से लॉन्च करने की तैयारी में है। कंपनी के डायरेक्टर रघु मित्रा एल्ला का कहना है कि यह दवा अगले महीने लॉन्च हो सकती है। इसके एक टैबलेट की कीमत 27 रुपये रखी गई है। अगर यह दवाई लॉन्च हो जाती है तो यह कोरोना की अब तक की सबसे सस्ती दवाई होगी।