Categories
Other

कचरा समझ जिस पेंटिंग को जा रहे थे फेंकनें, उस की कीमत जानकर दंग रह जाओगे!

घर में सफाई के दौरान कभी-कभी ऐसा होता है कि घर से कचरा निकालने के चक्कर में हम काम की चीज भी बाहर फेंक देते हैं. जब हमें उस सामान की जरुरत पड़ती है, तो हमें पता चलता है कि उस सामान की कीमत कितनी थी. ऐसा ही कुछ हुआ हैं. कचरा समझकर करोड़ों के एक सामान को फेंकने का एक मामला सामने आया है. आइये आपको बताते हैं पूरी बात.

दरअसल, नाइजीरिया के एक परिवार के घर पर एक पेंटिंग लगी हुई थी. परिवार को इस पेंटिंग के महत्व के बारे में कोई जानकारी नहीं थी. फिर एक दिन परिवार के सदस्यों ने पेंटिंग पर बने पेंटर के दस्त‍खत को गूगल किया और उनकी किस्मत बदल गई. जिस पेंटिंग को वह आम मानकर चल रहे थे, वह अब 11 लाख पाउंड यानी करीब 10 करोड़ रुपये में नीलाम की गई है. 1971 से ही इस परिवार के घर पर लगी थी. अनुमान से 7 गुना ज्यांदा मिली कीमत लंदन स्थित ऑक्श न हाउस सोथेबी के फ्री ऑनलाइन एस्टिमेट प्लेटफॉर्म पर जब परिवार ने पेंटिंग पर किए गए हस्ताक्षर को गूगल किया, तो चौंक गए. इस पेंटिंग को नीलामी से पहले लगाए गए कयास से सात गुना ज्यादा कीमत मिली.

क्यों खास थी यह पेंटिंग : पेंटिंग में इफि की शाही राजकुमारी एडीतुतु का चित्र बनाया गया था. बेन ने बनाई थी एडीतुतु की तीन पेंटिंग्स बुकर पुरस्कार विजेता उपन्यासकार बेन ओकरी ने बताया कि यह पेंटिंग नाइजीरिया के लिए एक राष्ट्रीय आइकन है. इसे माना जाता था बेन इनवॉनवू की साल 1994 में मौत हो गई थी. बेन ने राजकुमारी एडीतुतु की तीन पेंटिंग्स बनाई थीं. 1960 के दशक में नाइजीरियाई-बियाफ्रान संघर्ष के दौरान उनक यह पेटिंग शांति का प्रतीक बन गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.