Categories
News

लोग यहाँ पेड़ से कं’डो’म बांध कर करते है उसकी पूजा! इसके पीछे की वजह जान कर आप भी रह जाएंगे हैरान….

डेली खबरें

वैलेंटा’इन डे (Valentine`s Day) पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र वर्जिन पेड़ (Virgin Tree Puja In Hindu College) की पूजा करते थे. इतना ही नहीं व’र्जिन पेड़ की इस पूजा में वि’द्यार्थी इस पेड़ पर कं’डो’म (Condom) भी बां’धते थे. कई सालों से चली आ रही इस प्रथा को लेकर हमेशा छात्राएं विरोध करती थीं. जानिए क्या है पूरा मामला.

नई दिल्ली: फरवरी माह शुरू होने के साथ ही हवा में प्रेम (Valentine’s Day 2021) की खु’शबू घुल जाती है. क्योंकि इस महीने ही वैश्वि’क प्यार का पर्व वैलेंटा’इन डे होता है. 14 फरवरी को प्रेमी-प्रेमिका एक-दूसरे को उप’हार देते हैं. दुनिया के अलग- अलग हिस्सों में बड़े ही खूब’सूरत अंदाज में इस साप्ता’हिक पर्व को मनाया जाता है. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि कुछ साल पहले तक वैलें’टाइन डे पर दिल्ली युनिवर्सिटी (Delhi University) में एक अजीबो-गरीब प्रथा प्रच’लित थी.

पेड़ पर कं’डो’म बांधने की प्रथा 

वैलें’टाइन डे (Valentine Day) पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र व’र्जिन पेड़ (Virgin Tree Puja In Hindu College) की पूजा करते थे. इतना ही नहीं व’र्जिन पेड़ की इस पूजा में विद्यार्थी इस पेड़ पर कं’डो’म (Condom) भी बांधते थे. कई सालों से चली आ रही इस प्रथा को लेकर हमेशा छा’त्राएं विरोध करती थीं. महिला छात्रों का कहना था कि यह रिवा’ज महिलाओं को व’स्तु के तौर पर दर्शा’ती है. महि’लाओं ने इस प्रथा के विरोध में कई बार आ’वाज उठाई.

छात्रों करते थे व’र्जिन ट्री पूजा

कई सालों से चले आ रहे इस महिला विरो’धी रिवाज (Anti female customs) को विवा’द के कारण बदल दिया गया था. इसके बाद एक बार कॉलेज में बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह (Ranveer Singh) को लव गुरु दर्शा’कर पूजा गया था. दरअसल कॉलेज हॉस्टल में रहने वाले छात्रों ने व’र्जिन ट्री (Virgin Tree) पूजा का आयो’जन किया था. हर साल स्टूडें’ट्स इस व’र्जिन ट्री पर कं’डो’म भी बांधते थे.

इस अनोखी पूजा के पीछे की वजह 

अप ये जानकार दंग रह जाएंगे कि इस पेड़ की पूजा करने वाले छात्र इसे गुड ल’क के तौर पर देखते थे. छात्रों का मा’नना था कि इस तरह इस पेड़ की पूजा करने से उन्हें उनका प्यार मिल जा’एगा. छात्र पिं’जरा तोड़ (Pinjra Tod) और दम’दमी माई (Damdami Mai) की भी पूजा करते थे. कॉलेज की इन प्रथा’ओं का तब भारी विरो’ध होता था. हालां’कि काफी विरोध के बाद इसे बंद कर दिया गया था. फिर छात्रों ने किसी फे’मस कपल की पूजा का आयो’जन करने का फैसला किया था.