Categories
News

ये रहे प्रधान’मंत्री मोदी के सबसे पसं’दीदा IAS अफ’सर, प’त्नी से करा’या कुछ ऐसा काम.

वायरल खबर

ये हैं प्रधानमंत्री मोदी के पसंदीदा IAS अफसर, स्कूलों में पत्नी से मुफ्त पढ़वाया, इस चीज में हैं माहिर

जब वे रुद्रप्र’याग में डी’एम थे, तो उन्होंने एक विद्या’लय को गोद लिया था. टीच’र्स की कमी होने के चलते उन’की प’त्नी ने राज’कीय प्राथ’मिक विद्या’लय और बालिका इंटर कॉ’लेज में समय-समय पर ब’च्चों की कक्षा’एं लीं. 

रुद्रप्र’याग: सिवि’ल स’र्विस देश की वो से:वाएं हैं, जो चाहें तो स’माज और देश की तस्वी’र बदल सकती हैं. पहा’ड़ों में तैनात IAS अफ’सर मंगेश घिल्डि’याल ऐसे ही अफ’सरों में से हैं, जिन्हें जहां भी पो’स्टिंग मिली, अपने मान’वीय गुणों को ले’कर चर्चा में रहे. लेकिन पिछ’ले कुछ दिनों ने उनकी च’र्चा कुछ ज्यादा ही हो रही है. इस’की वजह भी खास है – मं’गेश घिल्डि’याल की काबि’लियत और समझ’दारी से प्रधान’मंत्री भी प्रभा’वित हुए हैं, और उन्हें पीए:मओ में सेक्रे’ट्री के पद पर तैना:ती दी गई है. प्रधान’मंत्री हमेशा से का’बिल और जिम्मे’दार अफ’सरों को सम्मा’नित करते रहे हैं. ऐसे में आई’एएस ऑफि’सर मंगेश घिल्डि’याल की कर्तव्य:निष्ठा को सम्मा’नित करते हुए उन्हें प्रधा’नमंत्री कार्या:लय में नि’युक्ति दी गई है. 

ब’च्चों के भवि’ष्य के लिए प’त्नी ने करी मदद
मंगे’श घिल्डि’याल की तरह ही उनकी प’त्नी उषा घिल्डि’याल ने भी उनकी जिम्मे’दा’रियों के निर्व’हन में पूरा सह’योग किया. जब वे रुद्रप्र’याग में डी’एम थे, तो उन्होंने एक विद्या’लय को गोद लिया था. टीच’र्स की कमी होने के चलते उनकी प’त्नी ने राज’कीय प्राथ’मिक विद्या’लय और बालि’का इंटर कॉ’लेज में समय-समय पर ब’च्चों की क’क्षाएं लीं. इतना ही नहीं राजी:व गां’धी नवो’दय विद्या’लय और जवा’हर नवो’दय विद्या’लय की प्रवे’श परी’क्षाओं की तैयारी के लिए खुद डी’एम मंगे’श धिल्डि’याल और उनकी पत्नी ने पांच’वीं के बच्चों ग’णित, अंग्रे’जी और वि’ज्ञान विष’य पढ़ा’या. बच्चों का बौ’द्धिक स्तर बढ़ा’ने के लिए उनकी प’त्नी बालि’का इंटर कॉ’लेज में 10वीं की बच्चि’यों को महीने भर तक पढ़ा’ने जाती थीं. 

निरी’क्षण के लिए बद’ल लिया भेष
मंगे’श घिल्डि:याल रुद्रप्र’याग में डी’एम रहने के दौ’रान भेष बदल’कर इला’के में निरी:क्षण पर निक’लते थे. इस अनो’खे तरीके से उन्होंने कई बड़े-बड़े भ्रष्टा’चार करने वाले चेह’रों को बेन’काब किया था. उनका ये तरी’का काफी च’र्चित रहा था.

सितं’बर में आया PMO से बुलावा 
12 सितं’बर 2020 को मंगे’श घिल्डि’याल को पीए’मओ के बुला’वा आया. वे उस वक्त टि’हरी जिले के जिलाधि’कारी थे. उत्तरा’खंड शा’सन को उन्हें रिली’व करने के सबं’ध में चिट्ठी भे’जी गई और उन्हें पीए’मओ में सेक्रे’ट्री के पद पर तैना:ती की सूच’ना दी गई. पीएम के ड्रीम प्रोजे’क्ट केदा’रनाथ धाम पुनर्नि’र्माण कार्यों में भी मंगेश घिल्डि:याल ने अहम भूमि’का निभा’ई है.