Categories
News

टीचर बोली जब मैं प’ढ़ाती हूं तो प्रिंसि’पल क्लास में मेरे साथ करते है…

हिंदी खबर

अहमदा’बाद। गुजरा’त के नर्म’दा यूनिव’र्सिटी से जु’ड़े वल’साड के शा’ह केए’म लॉ कॉ’लेज की ए’क महि’ला प्रोफे’सर ने इंचा’र्ज कुल’पति डॉ. हेमा’ली देसा’ई, राज्य’पाल, मुख्य’मंत्री, महि’ला आ’योग, क’लेक्टर, पुलि’स आ’युक्त को प’त्र लिख’कर कॉ’लेज के प्रिंसि’पल प’र यौ’न उत्पीड़’न का आरो’प ल’गाया है।

महि’ला प्रोफेस’र ने अ’पने प’त्र में लि’खा है कि ज’ब व’ह क्ला’स में ब’च्चों को पढ़ा’ती हैं त’ब इं’चार्ज प्रिंसि’पल कै’मरे से हमा’रे श’रीर के पि’छले हि’स्से को जू’म कर’के दे’खते हैं। हमा’रा लेक्च’र ए’क घं’टे का हो’ता है। ले’क्चर ले’ने से प’हले व’ह वॉ’श रू’म में जा’ती हैं त’ब भी प्रिंसि’पल कैम’रे को जू’म क’रके देख’ते हैं।

उ’नकी नि’गरानी कर’ने के लि’ए चप’रासी को उ’नके पी’छे भे’जते हैं। क’भी क्ला’स में जा’ने में दे’री हो जा’ती है तो प्रिं’सिपल अप’ने के’बिन में बुला’कर पू’छते हैं कि वॉ’शरूम में इत’नी दे’र से क्या क’र र’ही थी? इ’तनी दे’र कै’से हो ग’ई? ज’ब कभी ह’में स’र्दी या खां’सी हो जा’ती है तो प्रिंसि’पल क’हते हैं कि श’राब पि’या क’रो। अ’भद्र भा’षा का भी इस्ते’माल कर’ते हैं।