Categories
News

PTI के बाद अब हरियाणा में ड्रा’इंग टीचरों को बड़ा झट’का, हाईकोर्ट से मिली हार

खबरें

हरियाणा में पीटी’आई टीच’रों के केस हारने और नौकरी जाने के बाद अब ड्रा’इंग टीचरों को बड़ा झट’का लगा है। आज ड्राईं’ग टीच’रों के केस में पंजाब एवं हरिया’णा हाई’कोर्ट का फैसला आ गया है। इस केस में ड्रा’ईंग टीचर केस हार गए हैं। अब ड्राइंग टीच’रों की नौकरी जाना तय है।

पंजा’ब एवं हरिया’णा हाई’कोर्ट ने 816 ड्राइंग टी’चरों की नियु’क्ति रद करने के एकल बैंच के फैस’ले के खिलाफ दायर अपील पर यह फैसला सुनाया गया है। हरियाणा स्टाफ सले’क्शन कमी’शन ने 20 जुलाई 2006 को विज्ञा’पन जारी कर 816 ड्राइंग टी’चरों की नियु’क्ति के लिए आवे’दन मांगे थे।

High Court

इसके खि’लाफ एकल बैंच में दायर याचिका में बताया गया था कि इस दौरा’न नियम रखा गया था कि एक टेस्ट होने के अलावा 25 अंकों का साक्षा’त्कार आयो’जित किया जाएगा। लेकिन बाद में कई बार नियमों को बदला गया। कुछ उम्मीद’वारों के फार्म तो अंतिम तिथि के बाद भी स्वीकार किए गए। हाई’कोर्ट ने पूरी नियुक्ति प्रक्रिया का रिकॉ’र्ड देखा तो सामने आया कि कमी’शन के चेयर’मैन ने अन्य किसी भी सदस्य से परामर्श किए बिना ही नियु’क्ति का पै’माना बदल दिया था।

एक और संशो’धन करते हुए 60 प्रति’शत अंक प्राप्त करने वालों को ही इंट’रव्यू में बुलाने की बात कही गई। इंट’रव्यू के अंक 25 से बढ़ा’कर 30 कर दिए गए। याची ने इसे हाईकोर्ट में चुनौती दी थी और हाई’कोर्ट ने भर्ती को खारिज करते हुए कहा था कि भर्ती प्रक्रिया के बीच में नियमों में संशो’धन नहीं किया जा सकता है।