Categories
News

बडा खुलासाः जिस वक्त हुई सुशां’त की मौ’त, महेश भट्ट संग…….कर रही थी रिया😱

खबरें

सुशां’त सिंह राजपूत मामले में बड़ी बातें सामने निकलकर आ रही हैं. सीबीआई ने जांच शुरू कर दी है. वहीं दूसरी तरह डायरेक्टर महेश भट्ट और रिया चक्रवर्ती की व्हाट्सएप चैट का खुला’सा हो रहा है.

14 जून को सुशां’त सिंह राजपूत ने अपने मुंबई के बां’द्रा स्थित अपार्टमेंट में फां’सी लगा ली थी. उस दिन भी रिया और महेश के बीच बातचीत हुई थी. अब ये बातचीत आखिर क्या थी और दोनों ने एक दूसरे को क्या कहा इस बात का खुला’सा हुआ है.

एक न्यूज चैनल को स्क्रीनशॉट मिले हैं. इससे पता चलता है कि दोनों की रोजाना बात हो रही थी. दोनों के बीच अच्छी दोस्ती थी और महेश रिया को प्रेरणादायक बातें शेयर करते थे.

इस स्क्रीनशॉट से पता चलता है कि महेश भट्ट रोज रिया का दिन बेहतर बनाने के लिए उन्हें मोटिवेशनल लाइन्स लिखकर भेजते थे. रिया ने यहां खुद उनसे लाइन्स लिखकर देने के लिए कहा है.

यहां आप देखेंगे कि सुबह महेश ने रिया को लाइन्स भेजी थी. इसके बाद दोपहर में सुशां’त की मौ’त का खु’लासा होने के बाद महेश ने रिया को कॉल करने के लिए बोला था. महेश भट्ट ने दो बार रिया को कॉल भी किया, लेकिन उन्होंने उठाया नहीं.

बता दें कि गुरूवार शाम रिया चक्रवर्ती और डायरेक्टर महेश भट्ट के बीच 8 जून को हुई व्हाट्सएप चैट सामने आई थी., वो चैट इस बात की ओर इशारा कर रही थी कि रिया सुशां’त संग अपने रिश्ते को लेकर खुश नहीं थीं. इस चैट से इशारा इस ओर भी गया था कि रिया के पिता को भी सुशां’त संग उनका रिश्ता ना’गवार था.

जांच एजेंसीज के सूत्रों के मुताबिक 8 जून को रिया चक्रवर्ती ने सु’शांत का घर छोड़ दिया था. उनके घर से निकलने के बाद रिया ने डायरेक्टर महेश भट्ट को कुछ मैसेज किए थे. अपनी बात की शुरुआत रिया ने कुछ ऐसे की थी. उन्होंने महेश को मैसेज किया-

आयेशा, रिया की फिल्म जलेबी में उनके किरदार का नाम था. इस फिल्म को महेश भट्ट ने प्रोड्यूस किया था. मैसेज में आगे लिखा गया-
“हमारी लास्ट कॉल मेरे लिए जगाने वाली थी. आप मेरे लिए एंजेल हैं. आप तब भी थे और अब भी हैं.”

जिस दिन हुई सु’शांत की मौ’त, उस दिन महेश भट्ट ने रिया को किया था ये मैसेज
सूत्रों के मुताबिक, इस मैसेज के जवाब में भट्ट ने लिखा-

“अब पीछे मुड़कर मत देखना. जो कभी नहीं हो सकता वो करके दिखाओ. तुम्हारी पिता को मेरा प्यार. वो अब खुश होंगे.”