Categories
News

जानिए क्या है वह 5 शर्तें जिन पर मुं’ब’ई हा’ई को’र्ट ने दी रिया चक्र’वर्ती को ज’मा’नत…

हिंदी खबर

रिया च’क्रव’र्ती को 1 लाख के मु’चल’के पर ज’मा’नत मिली है. रि’या को पा’स’पोर्ट जमा करना होगा. वहीं रिया को मुं’ब’ई से बा’हर जाने के लिए मं’जू,री लेनी होगी. जब भी रिया को पू,छ,ताछ, के लिए बुला,या जाएगा उन्हें हा’जि’र होना होगा.

बॉ’लीवु,ड अ’भि’नेत्री रिया च’क्र’वर्ती को बुधवार को बॉ’म्बे हाई’को’र्ट ने ज’मान’त दे दी। रिया के अलावा दीपे’श सा’वंत और सै’मुएल मिरांडा को भी को’र्ट ने जमा’नत दी है। वहीं, उनके भाई शौ’वि’क चक्र’व’र्ती और अब्’दुल बासित परिहार को ज’मा’नत नहीं मिली। रिया को पिछले महीने नार’कोटि’क्स कं’ट्रो’ल ब्यू’रो (एनसीबी) द्वारा गि’रफ्’ता’र किया गया था। हा’ई’को’र्ट ने ज’मा’न’त देते हुए रिया के आगे कुछ श’र्तें रखी हैं।

 ऐसे में आइए जानते हैं कि वो श’र्तें क्या हैं:-

पासपोर्ट जमाः रिया च’क्र’व’र्ती को अपना पास’पोर्ट कोर्ट को ज’मा कर”ना होगा और दे’श के बाहर जाने से पहले रिया को अदा’लत से इजा’जत लेनी होगी। 

पु’लि’स में देनी हो’गी हा’जि’री: रिया ‘चक्र’व’र्ती को 10 दिन तक मुंब”ई पु’लि’स को रिपोर्ट करना होगा। इसके अ’ला’वा जब भी एनसीबी द्वारा उन्हें बु’लाया जा’एगा, उन्हें अपनी हाजिरी देनी होगी। 

जमानती बॉन्ड: रिया च’क्र”व’र्ती को ज’मा’नत के लिए एक लाख रुपये का बॉन्ड भरना होगा। हा’ई’को’र्ट ने निजी मुच’लके’ पर रिया को ज’मा’न’त दी है। 

देश नहीं छोड़ सकतीं: रिया चक्र’वर्ती इस मामले के चलने तक देश से बाहर नहीं जा सकती हैं। 

अन्य गवाहों से मुला”’कात नहीं: रिया को अन्य गवाहों से मुला’का’त करने की मना’ही है। हाईकोर्ट ने कहा है कि वह इस मा’म’ले से जुड़े किसी भी गवाह से नहीं कर सकती हैं।  ‘

रिया की बेल पर क्या बोले उनके वकील?

रिया को जमानत मिलने के बा’द उनके व’की’ल सतीश मा’न’शिं’दे ने क’हा- बॉम्बे हा’ईको’र्ट द्वारा रिया को बेल देने के फै’स’ले से ह’म खु’श हैं. सच और न्याय की जीत हुई है. आ’खि’रकार जस्टिस सारंग को’टवाल ने फैक्ट्स और का’नू’न को स्वी’कारा. रिया की गि’रफ्”’तारी’ और उनकी कस्ट”डी पूरी तरह से अनुचित और का’नून’ की पहुंच से परे थी. तीनों सें’ट्र’ल ए’जें’सि’यों ने रिया को हा’उंस और विच हंट किया. सीबीआई, ईडी और एनसीबी को अब अं’जा’म पर आना चाहिए. हम सत्य के लिए प्र’ति’बद्ध हैं. सत्य’मेव जयते.