Categories
News

पूर्व सी’बी’आ’ई नि’देश’क अश्विन कुमार का सु’सा’इ’ड लगा पु’लिस के हाथ, सामने आयी आ’त्मह’त्या की असली वजह 👇

खबरें

बुधवार को हि’मा’चल प्रदेश की राजधानी शिमला से एक चौं’का’ने वाली ख’बर आई। बुधवार रात ना’गालैं’ड के पूर्व रा’ज्य’पा’ल और पूर्व सी’बीआ’ई नि’देशक अ’श्वनी कु’मार ने आ’त्मह’त्या क ली। जिसके बाद हिमाचल से लेकर केंद्र सरकार तक हं’गा’मा मच गया। दरअसल अश्वनी कुमार ने छोटा शि’म’ला के ब्रॉ’क्हॉस्ट एरिया स्थित अपने घर में आ’त्म’ह’त्या कर ली। वहीं, मौ’के पर पहुंची पु’लिस टी’म के हाथ एक सु’साइ’ट नोट भी लगा है। जिसमें अ’श्व’नी कुमार ने अपनी आ’त्मह’त्या की व’जह का खु’ला’सा’ किया। अ’श्व’नी कुमार ने सु’साइ’ड नोट में लिखा कि वह अपने इस जीवन की यात्रा को ख’त्म कर रहे है और अगली यात्रा पर निकल रह है।

सु’साइ’ड नोट में बताई वज’ह
अ’श्व’नी कु’मा’र की मौ’त की सु’चना मिलते ही डी’जी’पी संजय कुंडू, आ’ई’जी हि’मांशु मिश्रा और ए’स’पी मोहित चावला पहुंचे। यहां पर देखा कि अ’श्वि’न कुमार ने फं’दा लगाकर सु’सा’इ’ड कर लिया। जिसके बाद पु’लिस को अश्विन कुमार का सु’सा’इड नोट मिला। इस नोट में अ’श्विन कुमार ने अपने सु’सा’इड की व’जह बताई। इस नोट में उन्होंने लिखा कि वह गं’भी’र बी’मा’री के चलते इस तरह का क’दम उ’ठा रहे हैं। इस क’द’म के लिए उन्होंने किसी को भी जि’म्मे’दा’र नहीं ठ’ह’रा’या है। इसके साथ ही उ’न्होंने दुआ की है कि उनके जाने के बाद सब खुश रहें। इसके आगे सु’सा’इड नोट मे अ’श्वनी कुमार ने लिखा कि अपनी इच्छा से यह जी’वन स’मा’प्त कर अगली यात्रा पर निकल रहे हैं।

क्या बोले डी’जी’पी
अ’श्वनी कु’मार की मौ’त के बाद डी’जी’पी सं’जय कुं’डू ने कहा कि शाम 7:10 बजे उनके बेटे और बहु वॉ’क पर गए थे। इस दौ’रा’न अ’श्व’नी कुमार अपने घर की छ’त पर थे लेकिन जैसे ही वॉ’क से घर आए बेटे- बहू ने दरवाजा खोलने की कोशिश की। तो घर का मेन गेट अंदर से बंद मिला। जिस वजह से दरवाजा तो’ड़ना पड़ा। इस दौ’रान घर के बाकि कमरों के दरवाजे भी बंद थे लेकिन घर के तीसरे रूम का गेट खुला हुआ था। जिसे खोला गया तो देखा कि अंदर अश्वनी कुमार र’स्सी से लटके हुए थे। इसके बाद परिजनों ने र’स्सी का’ट’कर उन्हें नीचे उतारा। डीजीपी ने बताया कि सी’न ऑफ क्रा’इम को फोटो लिए जा चुके है और अब स’बूत इ’कट्ठा किए जा रहे है और शव को भी क’ब्जे में ले लिया है गुरुवार सुबह पो’स्ट’मॉर्ट’म कर श’व को परिजनों के ह’वाले किया जाएगा।