Categories
News

BJP के इस दिग्गज नेता ने अपनी ही पार्टी पर साधा निशाना! बोले- लाल किले में ड्रामे के पीछे PMO के करीबी……

ब्रेकिंग न्यूज़

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि इस घ’टना से पीएम मोदी और अमित शाह की छवि को नुक’सान पहुंचा है।

कृषि कानून पर किसान संग’ठनों का विरोध प्रद’र्शन 65 दिन बाद गणतंत्र दिवस के दिन उग्र हो गया। पहली बार ट्रै’क्टर रैली के दौरान पुलिस और उपद्रवी आपस में भिड़ते नजर आए। लाल किले से लेकर आईटीओ तक सभी तरफ टक’राव की स्थिति देखने को मिली। हालांकि, पुलिस ने कहीं भी कड़ी कार्रवाई नहीं की। इस बीच भाजपा सांसद सुब्रम’ण्यम स्वामी ने इस घट’ना पर ट्वीट किया है। उन्होंने सोशल मीडिया में चल रही ख’बरों के आधार पर शक जताते हुए कहा कि लाल किले पर जो बवाल हुआ, उसमें पीए’मओ के करीबी भाजपा नेता का हाथ रहा है।

क्या कहा सुब्रमण्यम स्वामी ने?: स्वामी ने कहा, “एक गूंज चल रही है, शायद झूठी हो सकती है या दुश्मनों की झू’ठी आईडी से चलाई गई है कि पीए’मओ के करीबी भाजपा के एक सद’स्य ने लाल किले में चल रहे ड्रामे में भड़’काऊ व्यक्ति के तौर पर काम किया। चेक कर के जान’कारी दें।” इतना ही नहीं स्वामी ने अपने अगले ही ट्वीट में किसान आंदोलन में शामिल रहे दीप सि’द्धू से जुड़े एक ट्वीट को रिट्’वीट भी किया। इसमें कहा गया था कि लाल किले की हिंसा में आरोपी दीप सिद्धू भाज’पा सांसद सनी देओ’ल का कैंपेन मैने’जर रह चुका है।संबं’धित खबरें

मोदी-शाह पर भी निशाना: राज्यसभा से भाजपा सांसद स्वामी ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि इस घट’ना से पीएम मोदी और अमित शाह की छवि को नुक’सान पहुंचा है। साथ ही प्रद’र्शन कर रहे किसान नेताओं ने भी अपना स’म्मान खो दिया है। इसके अलावा, उन्होंने पंजाब की कांग्रेस सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। सुब्रम’ण्यम स्वामी का बयान ऐसे समय पर आया है जब देश के लोगों में प्रदर्शन’कारी किसानों के खिलाफ भारी आ’क्रोश है। उन्होंने इस घट’ना को लेकर पीएम मोदी को चिट्ठी भी लिखी है।

दीप सिद्धू के तार भाजपा से जुड़े होने की बात कर रहे किसान संगठन: इससे पहले सोशल मीडिया पर दीप सि’द्धू के भाजपा से जुड़े होने की खबरें ट्रेंड करती रहीं। भार’तीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने भी कहा कि दीप सिद्धू सिख नहीं हैं। बल्कि वे भाजपा के कार्यकर्ता हैं। वहीं, भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चंढूनी बोले कि ”किसान संगठ’नों का लाल किले पर जाने का कोई कार्य’क्रम नहीं था। दीप सिद्धू ने किसा’नों को भड़’काया और आउटर रिंग रोड से लाल किला तक ले गए।”