Categories
Other

क्या पायलट छोड़ सकते हैं कांग्रेस? राहुल गांधी से मुलाकात करने के बाद सचिन पायलट ने कहा…

राजस्थान में सरकार को गि’राने और पार्टी से ब’गावत करने वाले सचिन पायलट को लेकर अशोक गहलोत ने कई आ’रोप लगाये है. उनको काफी भला बुरा भी कहा. अशोक गहलोत की मांग पर 14 अगस्त को राजस्थान में विधानसभा सत्र बुलाया जायेगा जहाँ पर ये कहा जा रहा है की अशोक गहलोत बहुमत परीक्षण करवा सकते है अपनी सरकार का, लेकिन राजस्थान में दूसरी तरफ एक और चौकाने वाली खबर आई है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद सचिन पायलट ने मीडिया से बातचीत की. सीएम गहलोत से विवाद के बीच पहली बार मीडिया में आए सचिन पायलट ने कहा कि जिन लोगों ने मेहनत की है, उनकी सरकार में भागदारी हो. लड़ाई पद के लिए नहीं, आत्मसम्मान के लिए थी. पार्टी पद देती है, तो पार्टी पद ले भी सकती है. उन्होंने कहा कि जो वादे सत्ता में करके आए थे, वो पूरा करेंगे. पायलट ने कहा कि मुझे पद की बहुत लालसा नहीं है, लेकिन मैं चाहता था कि जो मान-सम्मान-स्वाभिमान की बात हम करते थे वो बनी रहे. हमने हमेशा कोशिश की है कि जिनकी मेहनत से सरकार निर्माण हुआ है उन लोगों की हिस्सेदारी, भागेदारी सुनिश्चित की जाए. मेरी शिकायत का समाधान होगा.

राहुल गांधी और प्रियंका से मुलाकात पर सचिन पायलट ने कहा कि मैंने अपनी बात बेबाकी के साथ रखी. मुझे खुशी है की कांग्रेस अध्यक्षा और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने विस्तार से चर्चा की. साथी विधायकों की बातों को हमने सामने रखा. मुझे आश्वासित किया गया है कि तीन सदस्यीय कमेटी जल्द इन तमाम मुद्दों का समाधान करेगी. ये सैद्धांतिक मुद्दे थे.