Categories
News

भार’तीय सेना ने बना’या WhatsApp जैसा स्वदे’शी ऐप, ये हैं ऐप की खासि’यत..

ब्रेकिंग न्यूज़

देश की सर’हद पर रक्षा कर रहे ह’मारे सै’निक अपने कर्त्त’व्य को पूरी नि’ष्ठां से निभाते हैं. कई मही’नों तक अपने घर-परि’वार से दूर रेह कर देश की रख’वाली करते हैं. कुछ व’क्त पहले सु’रक्षा कार’णों की वजह से सुर’क्षा बलों को सो’शल मी’डिया साइ’ट्स जैसे की फेस’बुक, इंस्टा या फिर व्हाट्’सएप जैसे एप्स के प्रयोग पर सर’कार ने पर्ति’बंध लगा दिया था. जि’सकी वजह से सर’हद पर मौ’जूद हमारे जवान अपने घर परि’वार और दो’स्तों के साथ संप’र्क में नहीं कर पा रहे थे. ले’किन अब देश की सर’कार ने इस सम’स्या को दूर करते हुए एक एप बना’या है. जिस’से सै’निक अपने परि’वार और दो’स्तों के साथ सं’पर्क कर पाएंगे. तो आइये आप’को बताते हैं, की ये कौन’सा एप है और इसकी क्या खा’सियत है.

दरअ’सल प्रधान’मंत्री नरें’द्र मो’दी के आत्म’निर्भर भारत अभि’यान को आगे बढ़ा’ते हुए भार’तीय सेना ने आज के दौर में चल रहे व्हाट्’सऐप और टेली’ग्राम जैसा ही एक स्वदे’शी मैसे’जिंग एप बनाया है. रक्षा मंत्रा’लय ने बता’या की इस एप का नाम सि’क्योर एप्लि’केशन फॉर इंट’रनेट रखा गया है.

बता’दें की ये एप भी व्हाट्’सएप की तरह एन्ड तो एन्ड सिक्यो’र है टे’क्स्ट मैसे’ज के अ’लावा ऑडि’यो और वी’डियो कॉलिं’ग सर्वि’स को सपो’र्ट करेगा. फिल’हाल इस ऐप को एंड्रॉ’यड बेस्ड इंटर’नेट सर्वि’स इस्ते’माल करने वाले स्मार्ट’फोन के लिए तै’यार किया गया है. फिल’हाल अभी ऐप के NIC पर इंफ्रा’स्ट्रक्चर हो’स्टिंग की प्रक्रि’या, कॉ’पी राइट के अधि’कारों की फाइ’लिंग और व’र्जन पर काम जारी है.

रक्षा मंत्रा’लय की ओर से जारी बया’न में कहा गया है कि ये ऐप मॉड’ल कमर्शि’यली पाए जाने वाले मैसे’जिंग ऐप्स जैसे वॉट्’सऐप, टेलि’ग्राम, SAMVAD और GIMS के जैसा है. यह एं’ड टू एंड इन्क्रि’प्शन मैसे:जिंग प्रोटो’कॉल का इस्ते’माल भी कर’ता है. ब’यान में आगे कहा गया है कि सा’ई (SAI) का पूरे देश में सेना द्वारा सुर’क्षित रूप से संदे’श भेजने के लिए उप’योग किया जाएगा.

SAI ऐप को CERT-in पै’नल में शामि’ल ऑडि’टर और आर्मी साइ’बर ग्रुप ने जांचा है. रक्षा मं’त्री राज’नाथ सिंह ने ऐप की समी’क्षा करने के बाद इसे विक’सित करने वाले कर्नल सा’ई शं’कर को उनके स्किल के लिए ब’धाई दी.