Categories
Other

शादी करने का सुन’हरा मौका, दुल्हनों को मि’लेगा मु’फ्त 10 ग्राम सोना, इस तरह से करें अ’प्लाई

वायरल न्यूज़

शादि’यों का सीजन चल रहा है, तो आप भी शा’दी की तैया’री कर सकती है। गहनों की चिंता मत की’जिए क्यों’कि सोना सरकार की तरफ से तोह’फे में दिया जाएगा। है’रान हो गए ना, लेकिन ये सच है कि सर’कार ने बेटि’यों की शादी पर सो’ना देने का एलान किया है।

देश’भर में बेटि’यों की हालत चिंता का वि’षय है, क्यों’कि आज भी कई जगह बहुत कम उ’म्र में लड़कि’यों की शादी कर दी जाती है। ऐसे में ना उन्हें पढ़ने का मौ’का मिलता है और उनके स्वा’स्थ पर भी बुरा असर पड़ता है वो अलग। इस सम’स्या के समा’धान के लिए असम सरकार ने अरुं’धति स्वर्ण स्की’म तैयार की है।

अरुं’धति स्वर्ण योज’ना का उद्दे’श्य लड़’कियों को शिक्षा के प्रति जाग’रुक करना और जिंद’गी के नए सफर में आर्थि’क सहा’यता प्रदान करना है। लेकिन आप इस योज’ना का लाभ तभी उठा सक’ते हैं जब आप’की दो बे’टियां हों और आपकी साला’ना आय 5 लाख रू’पये से कम है हो।

बता दें कि असम सर’कार ने अरुं’धति स्कीम को पिछले साल लॉ’न्च किया था। राज्य सर’कार की ओर से तो’हफे के तौर पर बेटि’यों की शा’दी में उन्हें 10 ग्राम सोना दिया जाता है। इससे लड़’की को आ’र्थिक मदद मिलती है। अगर आप भी इस योज’ना का लाभ लेना चाहती हैं तो इसके लिए आवे’दन करना होगा।

असम सर’कार की तरफ से इस स्कीम के लिए साला’ना 300 करो’ड़ रूपये का बजट रखा गया है। अरुं’धति स्वर्ण यो’जना एक परिवार की पहली दो संता’नों पर ही लागू होती है। अगर आप:की तीन या उससे अधिक बे’टियां हैं तो उन्‍हें इस’का लाभ नहीं मिलेगा।

इस यो’जना की वजह से बेटि’यों की कम उम्र में शादी पर भी रोक लगेगी क्यों’कि ये गोल्ड स्की’म केवल उन लोगों को मिले’गी जहां वर और वधू दोनों को आ’यु 18 वर्ष और 21 वर्ष हो। साथ ही इस यो’जना का लाभ उन्हीं समु’दायों में दुल्ह’नों को मिले’गा, जहां इस तरह की प्र’था है। इसके साथ ही आवे’दक का विवाह विशे’ष विवाह अधि’नियम, 1954 के तहत पंजी’कृत होना चाहिए।

कैसे करें आवेदन

  • योज’ना का लाभ लेने के लिए मैरिज ऑफि’सर के समक्ष प्रपत्र भरकर देना होगा।
  • revenueassam.nic.in पर आवेदन फॉर्म मिल जाएगा।
  • इस फॉर्म को ऑनलाइन भरकर उसका प्रिंटआउट निकालना होगा।
  • सभी दस्ता’वेजों के साथ इस फॉर्म को विवाह पंजीकरण अधिकारी के ऑफिस में जमा करना होगा।
  • दस्ता’वेजों की जांच करने के बाद एसए’मएस या फिर ई-मेल के मा’ध्यम से आवे’दक रिजेक्ट या एक्से’प्ट होने की सूच’ना दे दी जाएगी।
  • इसके बाद पैसा बैंक खाते में ट्रांस’फर कर दिया जाएगा।