Categories
Other

शिवपुराण में बताए गए हैं मृत्यु के ये 8 संकेत, जरुर पढ़े!

संसार में जिसने जन्म लिया है उसे एक ना एक दिन मरना ही है. इसके बावजूद भी लोगों के मन में मौत का भय बना रहता है. ज्यादातर लोग इस डर के साथ जीते हैं कि वह अपनी मौत आने से पहले सारे फर्ज पूरे कर लें.  शिवपुराण में भगवान शिव ने माता पार्वती को मृत्यु के संबंध में कुछ विशेष संकेत बताए है. इन संकेतों को समझकर यह जाना जा सकता है कि किस व्यक्ति की मृत्यु कितने समय में हो सकती है . जिनसे लोगों को आभास हो जाता है कि इस दुनिया में उनका वक्त पूरा हो चुका है. आइये बताते हैं उन संकेतों के बारे में.

1. शिवपुराण में कहा गया है कि अगर किसी के सिर के ऊपर गिद्ध, कौआ या कबूतर आकर बैठ जाएं या गिद्ध और कौवे घेर लें. तो यह मृत्यु का संकेत है. 2. इस ग्रंथ के अनुसार यदि किसी व्यक्ति का शरीर सफेद या पीला पड़ जाए और लाल निशान दिखाई दें तो यह भी मृत्यु का संकेत है. 3. शिवपुराण के अनुसार जब किसी मनुष्य का बायां हाथ लगातार एक सप्ताह तक फड़कता रहे, तो इसे भी मृत्यु के संकेत की संज्ञा दी गई है.4. शिवपुराण के अनुसार जिस व्यक्ति को अग्नि का प्रकाश ठीक से दिखाई न दे और चारों ओर काला अंधकार दिखाई दे तो यह भी मृत्यु का संकेत है. 5. इस ग्रंथ के अनुसार जब किसी व्यक्ति को जल, तेल या आइने में अपनी परछाई न दिखाई दे, तो इसे भी मृत्यु का संकेत पता चलता है.

6. जिसे चंद्रमा व सूर्य के आस-पास काला या लाल घेरा दिखाई देने लगे, उसकी मृत्यु 15 दिन के अंदर हो सकती है. 7. जिस व्यक्ति को अचानक नीली मक्खियां घेर लें, हो सकता है उसकी आयु लगभग 1 महीना ही बची हो. 8. यदि किसी व्यक्ति का मुंह और गला बार-बार सूखने लगे तो उसकी मृत्यु 6 महीने के अंदर संभव है. इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.