Categories
News

हे’ल्थ सि’स्टम में सुधा’र के लिए शिवराज सर’कार ने उठा’या ये बड़ा क’दम, डॉक्ट’र्स को मिलेगी बड़ी रा’हत,

डेली न्यूज़

मध्यप्र’देश में अब डॉ’क्टर मरी’जों के इलाज में आना’कानी नहीं कर पाएंगे. सर’कार जल्द ही डॉ’क्टरों के ऊपर से अस्प’ताल प्रबं’धन के कार्य के दबा’व को ख’त्म करेगी. पढ़ि’ए पूरी खबर…

खास बातें

  • भोपाल: प्रदेश के सरकारी अस्प’तालों से आ रही लचर स्वा’स्थ्य व्यव’स्थाओं की खबरों के बीच शिव’राज सर’कार ने बड़ा कदम उठाया है. अब जल्द ही डॉ’क्टरों को मेडि’कल कॉले’जों और अस्प’तालों के मैने’जमेंट की जिम्मे’दारी से मुक्त किया जाएगा. खुद चिकि’त्सा शिक्षा मंत्री विश्वा’स सां’रग ने ये बात कही है.
  • मंत्री विश्वा’स सांर’ग ने कहा कि अब अस्प’ताल प्रबं’धन के काम का बहाना देकर डॉ’क्टर मरीजों के इला’ज में आना’कानी नहीं कर पाएंगे, क्यों’कि सरकार डॉक्ट’रों के ऊपर से अस्प’ताल प्रबं’धन के का’र्य के दबाव को ख’त्म करेगी. डॉ’क्टर अब सिर्फ इलाज का दा’यित्व संभा’लेंगे. इससे स्वा’स्थ्य सेवाएं और मज’बूत होंगी.
  • क्या हुआ था हमी’दिया अस्प’ताल में
    बता दें कि हमी’दिया अस्प’ताल के को’रोना वार्ड में शुक्र’वार शाम 5:58 बजे पर लाइट चली गई थी. वहां बैक’अप के इंत’जाम थे, मेंटे’नेंस के भी निर्देश दिए गए थे, लेकिन ज’नरेटर 10 मिनट बाद बंद हो गया था, क्यों’कि उसमें डीजल नहीं था. जब’कि हर रोज 20 लीटर डीज’ल की व्यव’स्था की जाती है. ऐसे में डेढ़ घंटे से ज्यादा समय तक कोरो’ना वार्डों की बिज’ली ठप रही.
  • हमी’दिया अस्प’ताल ने दी थी ये सफाई
    बिज’ली ठप रहने से वार्ड में भर्ती मरी’जों की मशी’नें बंद हो गई थीं. हाई’फ्लो स’पोर्ट पर चल रहे दो मरीजों की हा’लत बिगड़ गई. बाद में एक मरीज की मौ’त भी हो गई. हमी’दिया अस्प’ताल प्रबं’धन की ओर से मा’मले में अपना बचा’व करते हुए मरीजों की मौत का का’रण बिजली सप्ला’ई को बा’धित होना नहीं बता’या गया था.
  • लगातार आ रही लचर स्वा’स्थ्य व्यव’स्थाओं की खबरें
    हालां’कि इस मामले में तत्का’ल प्रभाव से पीड’ब्ल्यू’डी के इंजी’नियर को निलं’बित कर दिया गया था और डीन को नो’टिस थमाया गया था. इसके अलावा सागर के बुंदेल’खंड मेडि’कल कॉले’ज और शह’डोल जिला अस्प’ताल में नवजा’तों की मौ’त का मामला भी गरमा’या है. जिसके बाद सरकार डॉक्ट’रों से ऊपर से अस्प’तालों के मेंटे’नेंस का दवाब हटा’ने जा रही है.

मध्यप्र’देश में अब डॉ’क्टर मरी’जों के इलाज में आना’कानी नहीं कर पाएंगे. सर’कार जल्द ही डॉ’क्टरों के ऊपर से अस्प’ताल प्रबं’धन के कार्य के दबाव को ख’त्म करेगी.