Categories
News

अभी अभी दिल्ली पर टूटी बड़ी आ’फत, पीएम मोदी सहित सभी………😱

खबरें

कि’सान संग’ठनों और दिल्ली पु’लिस के बीच 26 जनवरी की ट्रै’क्टर परेड पर स’हमति बनने के बाद सिंघु और टीकरी बॉ’र्डर पर तैयारियां जोरों पर हैं। पंजाब और हरियाणा से ट्रैक्टरों के आने का सि’लसि’ला लगातार जारी है। सूत्रों के मुताबिक, रविवार की रात तक टीकरी, सिंघु और गाजीपुर बॉर्डर पर करीब 20 हजार ट्रैक्टर पहुंच चुके हैं। किसान नेताओं का दा’वा है कि 26 जनवरी की सुबह तक एक लाख ट्रैक्टर आ जाएंगे।

टी’करी बॉ’र्डर पर एक सा’इड से रोड खोली गई
रविवार की शाम को रूट पर स’हम’ति बनने के बाद दिल्ली पु’लिस ने टी’करी बॉ’र्डर से दि’ल्ली की तरफ आने वाली सड़क पर एक सा’इड से बै’रिके’डिंग ह’टा दी है। आं’दो’लन स्थल से करीब एक कि’लोमी’टर आगे सीमेंट के बै’रिके’ड्’स और लोहे के बड़े कंटेनरों को ह’टाकर सड़क खाली कर दी गई है। साथ ही तय रूट पर दि’ल्ली पु’लिस और CRPF के जवा’नों ने भी सुर’क्षा व्य’वस्था सं’भाल ली है। प’रेड में सबसे ज्यादा ट्रैक्टर टीकरी बॉर्डर से ही दि’ल्ली में आएंगे। इसीलिए यहां व्यवस्था सबसे ज्यादा चा’क-चौ’बंद है। पु’लिस ने शर्त रखी है कि एक ट्रैक्टर पर तीन से ज्यादा लोग नहीं बैठेंगे। दूसरी चीजें तय करने के लिए कि’सान सं’गठन और पु’लिस सोमवार को भी बा’चती’त करेंगे।

मार्केट बंद रहेगा, सड़कें भी खाली होंगी
टी’करी से दिल्ली वाले रूट पर 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौ’रान सुर’क्षा ब’लों और किसानों के अ’लावा कोई नहीं होगा। एक पु’लिस अधिकारी के मुताबिक, 25 जनवरी की शाम को ही सारी दुकानें बंद करवा दी जाएगी। ऐसा इसलिए, ताकि कुछ ग’ड़ब’ड़ी हो तो वाहनों और दुकानों को नु’कसान न पहुंचे। टीकरी बॉर्डर के आसपास जहां किसान जुटे हैं, वह रि’हाय’शी इलाका है। इसलिए यहां भारी सुरक्षा के बं’दोब’स्त किए गए हैं। परे’ड के तय रूट के अला’वा आसपास की सड़कों पर भी डा’यवर्श’न का प्ला’न तैयार किया गया है।

कि’सान सो’शल आ’र्मी के 1000 वॉ’लियंट’र्स भी तै’नात रहेंगे
टीकरी बॉ’र्डर से दिल्ली आने वाली ट्रै’क्टर परे’ड के लिए किसान सो’शल आ’र्मी के एक हजार वॉ’लियंट’र्स भी तैनात रहेंगे। ये सूची पु’लिस से भी साझा की जाएगी। इन वॉ’लि’यंटर्स को लीड कर रहे अजीत सिंह ने बताया, ‘वॉ’लि’यंटर्स ड्रेस कोड में होंगे। इनमें फर्स्ट एड, पानी-चाय मु”हैया कराने वालों के अलावा ट्रैक्टर मै’के’निक भी होंगे। हम इसके लिए उन्हें बा’काय’दा ट्रे’निंग भी दे रहे हैं।’