Categories
News

दं’गाई किसानों से देश हुआ श’र्मसा’र, लालकिले पर फहराया दिया ऐसा झंडा……

खबरें

आज देश का 72वां गणतंत्र दिवस है और आज देश पूरी दुनिया के सामने श’र्मसार हो गया. क्योंकि आज कि’सान आं’दोलन अरा’जकता के च’रम शि’खर पर पहुँच गया. ट्रैक्टर परेड के नाम पर किसानों ने देश की राजधानी दिल्ली की सड़कों पर अरा’जकता और हिं’सा का नं’गा नाच किया. उपद्र’वियों ने लाल किले पर क’ब्ज़ा कर लिया. लाल किले के आस पास पु’लिस फ़ो’र्स का नामों निशाँ तक नहीं था. लाल किला ट्रैक्टर परेड के रूट में भी नहीं था. लाल किले पर क’ब्जे के बाद उप’द्रवी उस पोल पर चढ़ गए जिस पर स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी तिरंगा फहराते हैं. उस पोल पर चढ़ने के बाद उपद्रियों ने सिखों का धार्मिक झंडा निशान साहिब फहरा दिया.

पूरी दिल्ली में क़ा’नून और व्यवस्था का नामो-निशान तक नहीं दिख रहा. सड़कों पर बस प’त्थर ही प’त्थर दिख रहे. इस पूरे अरा’जक स्थिति के बीच किसान नेता गा’यब हैं. एक भी किसान नेता या किसान संगठन ने इस पूरे ब’वाल और अ’राजक’ता पर कुछ नहीं कहा. वो सारे नेता जो अब तक किसानों को भड़का रहे थे वो भी तमा’शा देख रहे. दिल्ली के मालिक अरविन्द केजरीवाल जो सिंघू बॉर्डर जा कर किसानों को भड़का रहे थे, जिन्होंने सिंघू बॉर्डर पर किसानों को फ्री वाई-फाई दिया वो चुप्पी साधे हुए अपने कमरे में बैठ कर दिल्ली को ज’लता हुआ देख रहे हैं.

ये सब अरा’जकता हुआ शांतिपूर्ण किसान आन्दोलन के नाम पर. ये अब अ’राज’कता हुआ गणतंत्र दिवस के दिन. देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के अवसर पर जवान और किसान आमने सामने आये. ट्रैक्टर रैली के लिए जो करार हुआ था दिल्ली पु’लिस और किसानों के बीच उसकी ध’ज्जियाँ उड़ गई. घोड़े पर सवार निहंग सिख त’लवार लहराते हुए पु’लिस वालों पर ह’मला करते देखे गए.