Categories
News

दु:खद-: अभी अभी देश ने खोया अनमोल रत्न, नही रहें देश के….., नरेंद्र…….😭

खबरें

भजन सम्राट नरेंद्र चंचल बेशक अमृतसर में पैदा हुए लेकिन जालंधर को अपना प्यार और दिल मानते थे। जालंधर के श्री देवी तालाब मंदिर में उनकी अपार श्रद्धा थी। चंचल मानते थे कि इसी मंदिर में जागरण के बाद उनका कैरियर ऊपर उठा था। 

जालंधर को बेहद प्यार करने वाले भजन सम्राट नरेंद्र चंचल का स्व’र्गवा’स होने से इ’लाके में शो’क की ल’हर है। हाल ही में चंचल ने जालंधर के रहने वाले नितीश वर्मा और रूही वर्मा की शादी पर उनको अपना वी’डियो बनाकर बधाई संदेश भेजा था। बबलू वर्मा को भी उन्होंने जन्म दिन पर बधाई संदेश भेजा था।

जालंधर के कई लोगों को दिल के करीब रखने वाले चंचल का जिले के प्रसिद्ध शक्तिपीठ श्री देवी तालाब मंदिर में काफी आना जाना था। मां के प्रति उनमें अपार श्रद्धा थी। चंचल के निकटवर्ती लोगों का कहना है कि चंचल मानते थे कि श्री देवी तालाब मंदिर में जागरण करने के बाद ही उनका कैरियर बुलंदियों पर पहुंचा था। नरेंद्र चंचल पंजाब के अमृतसर में पैदा हुए थे। अमृतसर की नमक मंडी की गली कु’त्तेयां वाली में उनका पैतृक घर है। चंचल के नि’ध’न की खबर मिलते ही गली में शो’क की लहर दौड़ गई।  

चंचल के जालंधर में वरुण मदान एकमात्र शिष्य हैं वहीं कुश और संदीप शर्मा को वह दिल के करीब मानते थे। उनके साथ चंचल के पारिवारिक संबंध थे। संदीप शर्मा बताते हैं कि चंचल खुद को काफी मजबूत मानते थे और हमेशा कहते थे कि उन पर माता रानी की अ’पार कृपा है। चंचल जी को प्यार से तमाम लोग भापा जी कहते थे। कभी उनको पता चलता कि आज जालंधर में उनके चाहने वाले का जन्म दिन है या सालगिरह है तो वह वी’डियो बनाकर भेजते थे। वह जालंधर को अपना प्यार और दिल मानते थे।