Categories
News

BIG BREAKING-: कल पूरे भारत में रहेगा लॉकडाउन, न निकले बाहर नही तो…….👇

खबरें

कल यानी 26 फरवरी को भारत व्या’पार बंद का आ’ह्वान किया है. वहीं जीए’सटी को लेकर दिल्ली के व्यापारी आं’दोलन की राह पर हैं. उन्होंने आज महापंचा’यत भी बुलाई है. दरअसल व्या’पारिक संग’ठन GST के नियमों में हाल ही में हुए कई बद’लावों से ना’राज हैं.

नारा’ज हैं व्यापारी
CAIT के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भर’तिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडे’लवाल ने कहा की 26 फरवरी को अपनी बात रखने के लिए दिल्ली सहित देश भर में लगभग 1500 जगहों पर ‘आ’ग्रह ध’रना’ आयोजित किया जाएगा वहीं दूसरी ओर कोई भी व्यापारी उस दिन  GST पो’र्टल पर लॉग इन नहीं करके अपना वि’रोध द’र्ज करेंगे. उन्होंने कहा की दिल्ली में अधि’कांश प्रमुख व्या’पारी संग’ठनों ने व्यापा’र बंद में शा’मिल होने का फै’सला लिया है वहीं कुछ दूसरे संग’ठन आज शाम तक इसमें शा’मिल होने के फै’सले का ऐलान करेंगे .

आज GST पर महापंचा’यत
GST को लेकर व्यापारी ना’राज हैं. इसलिए दिल्ली में व्या’पारियों ने आज महापंचा’यत बुलाई है. इस महापंचा’यत में 200 से ज्यादा बा’जारों के का’रोबारी संग’ठनों के पदाधि’कारी शामि’ल होने वाले हैं.

जीए’सटी आ’सान बनाने की मां’ग
CAIT के मुताबिक देश भर में व्यापारियों का वि’रोध त’र्कसंग’त और शां’तिपूर्ण होगा. जहां हो’लसेल और रिटे’ल बाजार पूरे तरह बंद रहेंगे वहीं जरूरी सामानों की बिक्री करने वाली दुकानों को बंद में शा’मिल नहीं किया गया है. रिहा’यशी कॉलो’नियों में लोगों की जरूरतों को पूरा करने वाली दुकानें को भी इससे बाहर रखा गया है. CAIT का कहना है जीए’सटी टै’क्स सि’स्टम आसान होने के बजाय बे’हद compl’icated हो गई है. वे जीए’सटी कॉ’उन्सि’ल पर भी अलोक’तांत्रि’क होने का आ’रोप लगा रहे हैं.

कई एसो’सि’एश’नों का बं’द को सम’र्थन
बी सी भरतीया के मुताबिक t’ax officer को असी’मित अ’धिका’र दे दिए गए हैं जिसके कारण अब अधि’कारी बि’ना कोई नोटि’स या सुनवा’ई का मौ’का दिए बिना किसी भी व्या’पारी का जीए’सटी रजि’स्ट्रेश’न नंबर कैं’सि’ल कर सकता है. व्या’पा’रियों का बैंक अकाउं’ट, सं’प’त्ति ज’ब्त किया जा सकता है. इस तरह के कद’मों से कारो’बार में कई तरह की दि’क्कतें होंगी. वहीं व्या’पारि’यों के कई एसो’सिए’शनों ने भारत व्या’पार बं’द को सम’र्थन दिया है.

च’क्का जा’म से 2 ट्रक संगठ’नों ने बनाई दूरी
उधर 2 बड़े ट्रां’सपो’र्ट सं’गठ’नों ने इस एक-दिव’सीय भार’त भा’रत बं’द और ‘च’क्का जा’म’ से खुद को अलग रखने का फैस’ला किया है.कहा है कि इससे कोई फा’यदा होने वाला नहीं है. वहीं उन्होंने ई-वे बि’ल में बद’लाव की मां’ग की   और कहा कि जिस तरह से बि’ल और रोड टै’क्स के मु’द्दों के लेकर द’बाव डाला जा रहा है उसपर भी गौ’र करने की ज’रूरत है.