Categories
News

आस’मान से गिरी अजीब सी काली चीज और आदमी रातों रात बन गया करोड़’पति

वायरल न्यूज़

घर की छत में छेद करके प’त्थर जब गिरा तो जमीन में 15 सेमी अंदर घुस गया था. निका’लने पर काफी गर्म था.

ऊपर वाला जब भी देता, देता छ’प्पर फाड़ के. गाना, कहा’वत तो सुनी होगी. अब इसका जि’क्र क्यों. क्यों’कि एक श’ख्स के साथ बि’ल्कुल ऐसा ही हुआ. भई छत तो’ड़ते हुए आस’मान से एक गु’म्बा गिरा. काला, खुर’दुरा प’त्थर जोर से गिरा, और मि’ट्टी में जा धंसा. उन महा’शय को पता नहीं था कि ये है क्या. उन्हें लगा, किसी ने जानबू’झकर फेंका होगा. अब ये जनाब इस 2.2 किलो के प’त्थर को बेच’कर 10 क’रोड़ रुपये के मा’लिक बन गए हैं.

इन महा’शय का नाम है जोसु’आ हुता’गलुंग. 33 साल के हैं. इंडोने’शिया के सु’मार्ता में रहते हैं, परिवार के साथ. पहली अग’स्त को इनके घर की छत तोड़ते हुए जो काला प’त्थर गिरा था, वह एक उल्का’पिंड था. मीडि’या रिपो’र्ट्स के मुता’बिक, उल्का’पिंड भी ऐसा-वैसा नहीं ब’ल्कि चार-साढ़े चार अरब साल पुराना.

अचानक से एक काला पत्थर आसमान से गिरा

मैं आश्चर्य’चकित हो गया. लेकिन ये जो कुछ भी हो, आशा करता हूं कि हमारे परिवार के लिए एक शुभ संके’त हो.

जोसुआ के घर जब ये गिरा था तो उन्होंने इसका 30 से’केंड का वीडियो बना लि’या था. फोटो भी धड़ा’धड़ क्लिक कर लीं. बाद में इन्हें फेस’बुक पर पोस्ट कर दिया. ये वाय’रल हो गई. उन्होंने लिखा-

पोस्ट में लिखी जोसु’आ की बात सच हो गई. उन्होंने कोम्पा’स नाम की वेब’साइट से बात करते हुए बताया कि फेस’बुक पर पोस्ट करने के बाद कई पत्र’कारों ने उनसे सम्प’र्क किया. कई लोग पत्थ’र देखने उनके घर आए. कई लोग प’त्थर खरी’दना चाहते थे, पर मैंने मना कर दिया.

जोसुआ ने बताया कि जब ये आस’मान से गिरा तो उस समय वह ता’बूत बनाने का काम कर रहे थे. इसके गिरने पर इतनी तेज आ’वाज हुई कि पूरा घर हिल गया. उन्होंने चौंक’कर घर के अंदर बाहर सब जगह देखा, तो पाया कि छत पर सु’राख हो गया है. उसके ठीक उसके नीचे पेड़ के पीछे एक प’त्थर गिरा पड़ा है. वह जमीन में करी’ब 15 सेंटी’मीटर धंसा हुआ है. जोसु’आ के मुता’बिक, जब उन्होंने उसे निकाला, तो वो का’फी गर्म था. बाद में पता चला कि वह एक उल्का’पिंड है.

जोसुआ ने इस उल्का’पिंड को विशे’षज्ञों को बेच दिया. इसके लिए उन्हें 1.4 बिलि’यन डॉलर यानी करीब 10 करो’ड़ रुपये मिले. जोसु’आ का कहना है कि इतनी रकम उसकी 30 साल की सैलरी के बराबर है. जोसुआ वैसे तो ता’बूत बनाते हैं, पर अब इस पत्थर से इतने पैसे मिल गए हैं कि काम छोड़’कर एक चर्च बन’वाने की सोच रहे हैं.