Categories
Other

कोरोना के बढ़ते कहर के कारण मुंबई में मास्क ना लगाने वालो को मिलेगी ये सजा

कोरोना से संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. इससे संक्रमित लोगों की संख्या दुनिया में बढ़कर 1,436,833 हो गई है. दुनिया में कोरोना वायरस ने 82,421 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है. ये जानलेवा वायरस पूरी दुनिया पर कब्ज़ा कर चुका हैं. भारत में इस वायरस से मरने वालों की संख्या सबसे ज्यादा मुंबई में ही हैं. जिस वजह से सरकार ने ये फैसला लिया हैं.

अब तक महाराष्ट्र में 1018 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, जिनमें से 64 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 79 लोग इलाज से ठीक भी हो चुके हैं, जिनको अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. महाराष्ट्र के मुंबई में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या को देखते हुए सभी के लिए मास्क पहनना जरूरी कर दिया गया है. दरअसल, कुछ शोधों में खुलासा हुआ है कि सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के साथ ही मास्क पहनने से कोरोना को फैलने से रोकने में मदद मिलती है. इसी के चलते मुंबई में सभी के लिए मास्क पहनना जरूरी किया गया है. मास्क नहीं पहनने पर पुलिस अधिकारी या फिर वार्ड के असिस्टेंट कमिश्नर द्वारा नियुक्त अधिकारी गिरफ्तार कर सकता है.

अब मुंबई में कोई भी बिना मास्क पहनने नहीं निकल पाएगा. बुधवार को बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के कमिश्नर प्रवीण परदेशी द्वारा जारी आदेश में कहा गया कि सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनना अपराध है, जिसके लिए आईपीसी की धारा 188 के तहत सजा दी जाएगी. यह आदेश एपिडेमिक डिसीज एक्ट 1897 के तहत जारी किया गया है. इस आदेश का पूरी गंभीरता के साथ पालन करने को कहा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.