Categories
Other

चीन भारत और दक्षिणपूर्व एशिया के लिए बना खतरा, अमेरिका ने यूरोप में…

पूरी दुनिया चीन की दा’दागि’री से प’रे’शा’न है. चीन ने अपने हर पड़ोसी के साथ सीमा वि’वा’द को बढ़ावा दे दिया है. भारत के खि’ला’फ LAC पर से’ना का जमावड़ा बढ़ा दिया है और ताइवान पर ह’म’ले करने की ध’म’की दे रहा है. कई द्वीपों को लेकर जापान के साथ उसका त’ना’व च’र’म पर है. इसके अलावा साउथ चाइना सी में भी चीन दा’दागि’री दिखा रहा है. 

चीन की हालिया गतिविधियों के देखते हुए अमेरिका ने उसे इतना बड़ा खतरा करार दिया है कि यूरोप से अपनी सेना हटाकर एशिया में तैनात करनी शुरू कर दी है।चीन के विदेश मंत्री माइक पॉम्पिओ ने चीन को भारत और दक्षिणपूर्व एशिया के लिए खतरा बताया है. माइक ने कहा, ‘चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के ऐक्शन से लग रहा है कि वह भारत, वियतनाम, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलिपीन और साउथ चाइना सी में खतरा है।

अमेरिकी सेना को हमारे वक्त की इन चुनौतियों से निपटने के लिए सही तरीके से तैनात किया गया है।’ पॉम्पिओ ने कहा कि ट्रंप प्रशासन ने दो साल में अमेरिकी मिलिट्री की तैनाती की रणनीतिगत तरीके से समीक्षा की है। अमेरिका ने खतरों को देखा है और समझा है कि साइबर, इंटेलिजेंस और मिलिट्री जैसे संसाधनों को कैसे बांटा जाए।