Categories
News

का’नपुर वा’ले गैंग’स्टर वि’कास दु’बे के’स में चौं’काने वा’ला खु’लासा, पु’लिस का छू’टा प’सीना…..

ताजा खबर

लखनऊ: का’नपुर एन’काउंटर के मु’ख्य आ’रोपी वि’कास दु’बे के के’स में जां’च जै’से-जै’से आ’गे ब’ढ़ती जा र’ही है। वै’से-वै’से रो’ज चौं’काने वा’ले खु’लासे हो’ते जा र’हे हैं।

अ’ब जान’कारी मि’ली है कि वि’कास दु’बे ने अ’पने करी’बी के ना’म 10 बी’घा ज’मीन ख’रीद र’खी थी। इ’स माम’ले में ई’डी से शिका’यत क’रने के बा’द उ’सने प्रशा’सन से जान’कारी मां’गी है।

शिका’यतकर्ता ने र’जिस्ट्री की कॉ’पी, बेच’ने वा’ले और खरी’दने वा’ले का पू’रा ब्यो’रा भी दि’या है। जिस’के बा’द से जि’ला प्रशा’सन हर’कत में आ ग’या है औ’र रजि’स्ट्री के काग’जा’त की जां’च क’राई जा र’ही है। जां’च हो’ने के बा’द फि’र उ’न्हें ई’डी को सौं’प दि’या जाए’गा।

विका’स ने अप’ने करी’बी के ना’म प’र ख’रीदी थी 10 बी’घा जमी’न

अ’भी त’क की जां’च में जो जान’कारी नि’कलकर साम’ने आ’ई है, उस’के मुता’बिक जय’कांत बाज’पेई की शि’कायत क’रने वा’ले एड’वोकेट सौ’रभ भ’दौरिया ने ई’डी को दि’ए प’त्र में क’हा है कि बिल्हौ’र क्षे’त्र के बै’री गां’व में वि’कास दु’बे ने 10 बी’घा जमी’न अप’ने करी’बी के ना’म प’र खरी’दी थी।

जि’स प’र ई’डी ने प्रशा’सन से ब्यो’रा त’लब कि’या है। ई’डी ने प्र’शासन से पू’छा है कि ज’मीन का मालि’क कौ’न था, कि’सने जमी’न खरी’दी थी।

बता’या जा र’हा है कि ब्यो’रा मि’लने के बा’द ई’डी जां’च क’रेगा कि ज’मीन खरी’दने वा’ले की मा’ली हा’लत क्या है? व’ह य’ह ज’मीन ख’रीद सक’ता था या न’हीं? अ’गर न’हीं तो पै’से के ले’न-दे’न में उस’की कि’स-कि’स ने हे’ल्प की थी?

फ’र्जी प’ते से रजि’स्ट्री क’राने का दा’वा

ऐ’सी भी जान’कारी मि’ल र’ही है कि शिका’यतकर्ता ने अ’पनी क’म्प्लेन में क’हा है कि वि’कास दु’बे के क’रीबी ने र’जिस्ट्री में अ’पने घ’र का प’ता भी ग’लत नो’ट करा’या था। व’ह मू’ल रू’प से नजी’राबाद क्षे’त्र का रह’ने वा’ला है, ले’किन र’जिस्ट्री में प’ता कल्या’णपुर लि’खाया है।

उ’धर एडी’एम वि’त्त ने क’हा है कि जो भी जा’नकारी ई’डी की तर’फ से मां’गी ग’ई है, उ’सके पेप’र निक’लवाए जा र’हे हैं। पू’री रि’पोर्ट ज’ल्द ही ई’डी को सौं’प दी जा’एगी।

वि’कास की प’त्नी से आ’ठ घं’टे लं’बी पूछ’ताछ

वि’कास दु’बे व उ’सके सा’थियों के खिला’फ म’नी लां’ड्रिंग के मा’मलें की जां’च क’र र’हे प्रव’र्तन निदे’शालय ने वि’कास दु’बे की प’त्नी रि’चा को पूछ’ताछ के लि’ए  निदे’शालय के ल’खनऊ का’र्यालय प’र त’लब कि’या ग’या था, ज’हां व’ह अप’ने दो’नों बे’टों औ’र वकी’ल के सा’थ पहुं’ची थी।

सू’त्रों के मुता’बिक करी’ब 8 घं’टे त’क च’ली लं’बी पूछ’ताछ में ई’डी ने रि’चा के स’भी बैं’क दस्ता’वेज, संपत्ति’यों औ’र आ’यकर रि’र्टन के दस्तावे’जों की जां’च की और इसके अलावा अन्य संपत्तियों के संबंध में जान’कारी हा’सिल की।