Categories
Other

इस गांव में हर बहु को देवर- जेठ के साथ बनाने पड़ते हैं संबंध

जैसा की आप लोग ये बात जानते होंगे कि हिंदू धर्म में कई रीति- रिवाजों को निभाया जाता हैं. हिंदू धर्म में शादी के दौरान भी कई रस्में निभायी जाती हैं, चाहें वो लड़की वालों कि तरफ से हो या लड़के वालों कि तरफ से. हिंदू संस्कृति में लड़कियों को लक्ष्मी माना जाता हैं. आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे है, जिसके बारे में आपको सुनकर हैरानी होगी की यंहा बहुओं को अपने ही देवर के साथ समय बिताना पड़ता हैं. आयिए अब आपको इस बारे में विस्तार से बताते हैं.

दरअसल, हमेशा से भाभी और देवर को एक प्यार और मज़कियां रिश्ते के तौर पर देखा जाता हैं. ऐसा भी माना जाता है कि भाभी अपने देवर के लिए माँ सम्मान होती हैं. लेकिन आज इस गांव की इस प्रथा के बारे में जानकार आपके पैरों तले ज़मीन खिसक जाएगी.

हम बात कर रहे है मध्य प्रदेश के मुरैना की , यंहा एक बहु को द्रौपती बनने पर मजबूर होना पड़ता हैं. बता दें, इस गांव में हर लड़की के 5 या उससे ज्यादा पति होते हैं. यंहा लड़कियां निशित समय में अपने पतियों के साथ समय व्यतीत करती हैं. दरअसल, इस गांव में काफी वक़्त से लड़कियों की कमी हैं, इसीलिए ऐसी परंपरा चलती आ रही हैं.

लड़कियों कि कमी के चलते गांव की पंचायत ने फैसला लिया कि एक लड़की के 5 या उससे ज्यादा पति होंगे और सबको बराबर का हक भी दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.