Categories
bollywood

वेब सी’रीज में दी जा रही गालि’यों पर भड़’के ‘जेठालाल’, ‘इस सब की कोई जरू’रत नहीं’

बॉलीवुड न्यूज़

अब तारक मेहता में जेठा’लाल का किर’दार निभाने वाले दिलीप जोशी ने इस बात पर नारा’जगी जताई है. उन्होंने ओटी’टी पर निशाना सा’धते हुए कहा है कि ऐसी गाली गलौ’ज की कोई जरू’रत नहीं है.

तारक मेहता के जेठा लाल

तारक महेता का उल्टा च’श्मा लंबे समय से दर्श’कों का लोक’प्रिय शो बना हुआ है. अब कहने को शो में काफी कॉमे’डी देखने को मिलती है, लेकिन मेक’र्स ने कभी भी डबल मी’निंग कॉमेडी या फिर गालि’यों का इस्ते’माल नहीं किया है. ये उनके शो का एक ऐसा सिद्धांत है जिसे आज भी फॉलो किया जाता है. लेकिन वहीं बात जब ओटीटी प्लेट’फॉर्म की आती है तो वहां पर हर तरह की भाषा का इस्ते’माल होता दिख जाता है.

ओटटी पर गंदी भाषा से भड़के जेठालाल

अब तारक मेहता में जेठा’लाल का किरदार निभाने वाले दि’लीप जोशी ने इस बात पर नारा’जगी जताई है. उन्होंने ओटी’टी पर निशा’ना साधते हुए कहा है कि ऐसी गाली गलौ’ज की कोई जरू’रत नहीं है. एक न्यूज पोर्ट’ल को दिए इंट’रव्यू में दिलीप कहते हैं- ओटी’टी पर कुछ बेहत’रीन काम देखने को मिलता है. लेकिन मैंने देखा है कि कई जग’हों पर गंदी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है, जब कि उसकी जरू’रत भी नहीं लगती है. मैंने अभी बंदि’श बैंडि’ट देखी थी, काफी खूबसूरत थी. शंकर सर का म्यूजि’क भी बढ़िया था. लेकिन सीरी’ज का एक किर’दार लगा’तार गाली दे रहा था. लग रहा था कि वो खुद गाली देते हुए सहज नहीं है. मुझे लगता है कि बिना गा’लियों के भी अच्छा काम किया जा सकता है.

दिली’प जोशी ने जोर देकर कहा है कि ऋषि’केष मुख’र्जी और श्या’म बेंगा’ल ने ऐसा सिनेमा बनाया था जहां पर काम भी बेहत’रीन रहता था और ऐसी भाषा का भी इस्ते’माल नहीं होता था. अब दिलीप जोशी की ये बात से कितने लोग सह’मत होते हैं, ये तो समय बता’एगा, लेकिन वेब सीरीज में गालि’यों का प्रयोग काफी आम हो चुका है. हाल ही में रिलीज हुई मिर्जा’पुर 2 में तो ऐसी भाषा की भर’मार देखने को मिली है. लेकिन उस सीरी’ज को इसी स्टा’इल की वजह से इतना पसंद किया जाता है.