Categories
News

महिला के इस अंग को माना जाता हैं बेहद पवित्र, जानकर उड़ जाएंगे होश….

हिंदी खबर

भारत देश में स्त्री को देवी का द’र्जा दिया जाता है. हिंदू धर्म में लोग नारी को देवी का रूप मानते हैं. अगर महिला न हो तो दुनिया से इंसानों का वजू’द मिट जाएगा. लेकिन आज के इस कलयुग में महिलाओं की स्थिति बहुत ख़राब है. आज भी लोग लड़की होने को किसी अभि’शाप से कम नहीं समझते. यह बात जानते हुए कि एक महिला ही संसार की मूल सुत्रधा’रक होती है इसके बावजूद लोग उसकी इ’ज्ज़त नहीं करते. लेकिन यह कहना गलत नहीं होगा कि कुछ हद तक महिलाओं के बारे में लोगों की अवधारणा ज़रूर बदली है. लेकिन अभी भी कुछ पिछड़े गांव ऐसे हैं जहां पर लड़कियों के पैदा होने पर मा’तम मनाया जाता है. लेकिन शायद उन लोगों को पता नहीं कि आज के युग में महिलाएं पुरुषों से किसी माम’ले में पीछे नहीं हैं. वह पुरुषों के साथ कं’धे से कंधा मिलाकर चल रही हैं. उन्हें शायद यह बात नहीं पता कि बेटा एक बार को आपको ठुकरा सकता है लेकिन बेटियां ही होती हैं जो आपको अपने साथ हमेशा रखती हैं. यह बात बिलकुल सच है कि बेटियां शादी के बाद भी बेटियां ही रहती हैं पर एक बेटा शादी के बाद पति बन जाता है. लड़की के जन्म होने पर लोग कहते हैं कि बधाई हो आपके घर में लक्ष्मी आई है. पर क्या वह लोग सच में इस बात को मानते हैं?

नवरात्री में भी लड़कियों की पूजा लोग मां दुर्गा का स्वरुप मानकर करते हैं. शादी करने के बाद लड़की जब ससुराल जाती है तब भी लोग यहीं कहते हैं कि घर में लक्ष्मी आई है. इसलिए शादी के बाद ससुराल में बहू का आगमन बहुत हर्षोउल्लास और रीति रिवाज़ के साथ किया जाता है. इसके अला’वा लोगों का यह भी मानना होता है कि एक स्त्री प्यार, त्याग और ममता की मूरत होती है. वह अपने से पहले हमेशा दूसरों के बारे में सोचती है. एक स्त्री को प्यार और सम्मान देने पर आपको उसका दोगुना प्यार और सम्मान मिलता है. जिन घरों में स्त्री को मान-सम्मान और इज्ज़त के साथ रखा जाता है उन घरों में हमेशा खुशियां बरक़रार रहती हैं. लेकिन जिन घरों में महिलाओं का सम्मान नहीं होता और उनका अप’मान किया जाता है उन घरों से खुशियां कोसों दूर चली जाती हैं.